image

चंडीगढ़ः केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने मंगलवार को यहां कहा कि केंद्र सरकार पेट्रोल और डीजल को वस्तु एवं सेवा र्क जीएसटी के दायरे में लाने पर विचार कर रही है। केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘हमने इस दिशा में बहुत काम किया लेकिन पेट्रोल और डीजल की कीमतों को लेकर कुछ समस्या है। कीमतों में कुछ गिरावट आने के बावजूद भी यह मुद्दा बना हुआ है। लेकिन केंद्र सरकार पेट्रोल और डीजल को जीएसटी के दायरे में लाने पर विचार कर रही है।’

कभी कभी अन्याय के समान हो जाती है न्याय में देरी: योगी

अठावले ने कहा, ‘अगर पेट्रोल और डीजल को जीएसटी के तहत लाया जाता है, तो इससे कीमतों में 20 से 30 प्रतिशत कमी लाने में मदद मिलेगी जिससे मध्यम वर्ग और आम लोगों समेत इस देश के लोगों को राहत मिलेगी।’ अठावले ने कहा कि लोगों को कुछ राहत देने के लिए राज्यों को भी पेट्रोल और डीजल पर कर कम करना चाहिए। पूर्व में विपक्षी पार्टियों ने मांग की थी कि पेट्रोलियम उत्पादों को भी जीएसटी के दायरे में लाया जाना चाहिए।
 

Web Title: Center thinking of bringing gasoline, diesel into GST: Athawale

More News From national

Advertisement
Advertisement
Next Stories
image

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
free stats