image

लखनऊः उत्तर प्रदेश में एक लड़के ने मुख्यमंत्री आवास के सामने आत्मदाह करने की कोशिश , लेकिन वक्त रहते पुलि ने उसे बचा लिया लेकिन उसका शरीर काफी झुलस गया। जानकारी के अनुसार, रायबरेली का रहने वाला युवक काफी समय से परेशान था और अपने परिवार सहित वो विधान भवन के सामने आकर आत्मदाह करने लगा। वहां पर चीख पुकार सुनकर पुलिस वाले पहुंचे और उन्होनें उसे बचाया। हालांकि उसके हाथ पांव काफी हद तक आग से झुलस गए थे। 

Read More  लोकसभा चुनावों के लिए बीजेपी का नया पैंतरा, योगी सहित कई नेताओं को मिली जिम्मेदारी

सोमवार सुबह करीब 11 बजे मुख्यमंत्री आवास के बाहर रायबरेली के दहली शिवगढ़ के विनय कुमार पाण्डेय ने मिट्टी का तेल डालकर खुद को आग लगा ली। युवक की दोनों हथेलियां, गर्दन और पीठ झुलस गई। उसे सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया। पूछताछ में विनय ने बताया कि घरवाले उसे परेशान करते हैं। पिता शिव कैलाश पाण्डेय घर में नहीं घुसने देते हैं। वह जो पैसा कमा कर लाता है उसे घर वाले छीन लेते हैं। वहीं, गौतमपुल्ली इंस्पेक्टर के मुताबिक, रायबरेली पुलिस का कहना है कि विनय आपराधिक प्रवृत्ति का है। वह हत्या और चोरी के मामले में जेल जा चुका है। घरवाले विनय की आदतों से तंग आ चुके हैं। 

Read More   इंडोनेशिया प्लेन क्रैशः पायलट जाना चाहता था भारत, लेकिन किस्मत पहले ही ले गई कहीं अाेर

नगराम के रहने वाले परिवार ने सोमवार सुबह करीब 11 बजे विधान भवन के सामने आत्मदाह का प्रयास किया। पीड़ित अशोक कुमार अपने ऊपर मिट्टी का तेल डालकर आग लगाने जा रहे थे, तभी पुलिसकर्मियों ने उसे अपनी गिरफ्त में ले लिया। अशोक के साथ पत्नी और बच्चे भी आए थे। अशोक ने बताया कि उसकी 10 व 11 साल की बेटियों के साथ पास के दुकानदार मोहम्मद इसरत ने गलत काम किया था। वह छह माह की जेल के बाद जमानत पर बाहर आ गया है। अब उस पर केस वापस लेने का दबाव बना रहा है। मुकदमा वापस न लेने पर पूरे परिवार को जान से मारने की धमकी दे रह है। इसकी शिकायत स्थानीय पुलिस से की, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की।

Web Title: man set himself on fire outside uttar pardesh cm home

More News From national

Advertisement
Advertisement
Next Stories
image

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
free stats