image

वांशिंगटनः नासा के ‘‘सुपरसोनिक पैराशूट’’ ने एक सेकंड के केवल चार बटे दसवें हिस्से में सक्रिय होकर और 37,000 किलो भार को रखकर विश्व रिकॉर्ड बनाया। नासा के अत्यंत महत्त्वाकांक्षी 2020 मंगल मिशन में यह सुपरसोनिक पैराशूट महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाएगा, जिसमें यह रोवर को मंगल ग्रह के सतह पर उतारने लैंडिगी का काम करेगा। अमेरिका की अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने एक बयान में कहा कि 17.7 मीटर लंबे ब्लैक ब्रेंट  साउंडिग रॉकेट के लॉन्च होने के महज दो मिनट से भी कम समय में उसका एक पेलोड अलग हो गया और पृथ्वी के वायुमंडल से होते हुये वापस आ गया।

Read More Bigg Boss 12: अनूप जलोटा का एक और ड्रामा, कहा- मैं करूंगा जसलीन का कन्यादान
 
बयान में कहा गया कि जब विमान में रखे सेंसर ने निर्धारित किया कि पेलोड उपयुक्त ऊंचार्ई 38 किलोमीटर ऊंचाईी और मैक नंबर 1.8 तक पहुंच गया है, तो पेलोड ने पैराशूट तान दिया। एक सेकंड के चार बटे दसवें हिस्से के भीतर यह पैराशूट पूरी तरह से फैल गया। नासा के मुताबिक, इस आकार वाले पैराशूट के खुलने की गति के हिसाब से देखा जाए तो यह इतिहास की सबसे तेज प्रक्रिया थी।

Read More सरदार पटेल को मिलेगा बस 3 साल तक नंबर 1 का दर्ज, फिर जाएंगा ये रिकॉर्ड इनके नाम
 
यह पैराशूट नायलोन, टेकनोरा और केवलर फाइबर से बनाया गया है। जेट प्रोपल्सन लेबोरेटरी जेपीएली कर एडवांस्ड सुपरसोनिक पैराशूट इंफ्लेशन रिसर्च एक्सपेरिमेंर्ट एस्पायरी परियोजना की एक श्रृंखला में साउंडिग रॉकेटों का परीक्षण किया जा रहा है, जो मंगल 2020 मिशन पर इस्तेमाल किये जाने वाले पैराशूट को तैयार कर रहा है।नासा मंगल 2020 अभियान के तहत भारी उपकरणों को मंगल पर उतारेगा, जिसमें इस पैराशूट का इस्तेमाल किया जाएगा।

Read More भारतीय वैज्ञानिकों का आविष्कार, आप मना सकेंगे दिवाली धमाकेदार

 

Web Title: Nasa Tests Supersonic Parachute For 2020 Mars Mission Created World Record

More News From international

Advertisement
Advertisement
Next Stories
image

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
free stats