image

पश्चिमोत्तर चीन के निंगश्या हवेइ स्वायत्त प्रदेश के हलानशान पर्वत के पूर्व तलहटी पर 57 मू (15 मू एक हेक्टेयर के बराबर) अंगूर उद्यान बसता है, जहां कई किस्मों वाले अंगूर उगाए जाते हैं, जो वाइन बनाने योग्य हैं। इस उद्यान में सालाना वाइन उत्पादन 12 करोड़ बॉटल्स हैं, लेकिन 20 साल पहले यहां केवल बंजर रेतीली भूमि थी।

साल 1985 में चीनी प्रथम अंगुर और अंगुर वाइन डॉक्टर ली ह्वा फ्रांस से अध्ययन समाप्त कर स्वदेश वापस लौटे। देश में वाइन उत्पादन क्षेत्र की खोज में वे कई स्थल गए और अंत में उन्होंने हलानशान पर्वत के पूर्व में तलहटी पर इस भूमि को पता लगाया। यहां वाइन बनाने वाले अंगूर उगाने के लिए अनुकूल है। स्थानीय सरकार के समर्थन में 2003 से ही उस वाइन उत्पादन क्षेत्र का निर्माण शुरु किया और धीरे-धीरे विकास होने लगा। अब पूर्व हलानशान पर्वत की तलहटी में अंगूर उगाने, तोड़ने, खमीर उठने और डिब्बा-बंद करने का मिश्रित मदिरा उद्यान बन चुका है।         

पूर्व हलानशान पर्वत की तलहटी अंगूर उद्यान के लगातार विकास के चलते स्थानीय आर्थिक विकास का संवर्धन हुआ और नागरिकों को अधिक रोज़गार का मौका मिला। करीब 1 लाख 20 हज़ार स्थानीय किसानों ने रोज़गार का पद प्राप्त किया, उनके जीवन स्तर का भी उन्नत हुआ। निंगश्या ह्वेइ स्वायत्त प्रदेश में अंगूर उद्योग के विकास से इस रेतीली भूमि में“बैंगनी करिश्मा”पैदा हुआ, जो कि संयुक्त राष्ट्र के“भुखमरी विरोधी, हरित विकास और स्वास्थ्य”वाली थीम के अनुकूल है। 5 नवम्बर को संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में चीनी निंगश्या पूर्व हलानशान पर्वत तलहटी का मदिरा महोत्सव आयोजित होगा।

 

(साभार-चाइना रेडियो इंटरनेशनल, पेइचिंग)

 

Web Title: Violet charisma standing on the sandy land of the Ninja

More News From international

Advertisement
Advertisement
Next Stories
image

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
free stats